Financial Freedom Achieve करने का सबसे सटीक तरीका

Financial Freedom Achieve करने का सबसे सटीक तरीका| फाइनेंशियल Free इन 3 सिंपल स्टेप्स से

हम सब जानते हैं कि हमारे देश को आजाद हुए आज 70 साल से ज्यादा हो चुके हैं| और तब से हम इंडियंस खुद को स्वतंत्र कंसीडर करते हैं, जो कि सच भी है| आज हम किसी दूसरे देश की गुलामी नहीं करते, ना ही हमें कोई फोर्स कर सकता है उनके हिसाब से जीने के लिए| लेकिन मेरा ऐसा मानना है कि, हम आज भी पूरी तरह से फ्री नहीं है| और ऐसा मैं इसलिए कह रहा हूं, क्योंकि हमारे देश की मेजोरिटी पॉपुलेशन आज भी पैसे की गुलामी करती है| इस का कारण गरीब और मिडल क्लास की फाइनेंसियल नॉलेज अभाव है|

फाइनेंसियल जानकारी ना होने के कारण लोग अपना पूरा जीवन वो JOB जॉब करते हैं, जिसे प्रोबेबली वह सबसे अधिक नफरत करते हैं| कुछ ही दिन पहले मैं अपने फ्रेंड के साथ बात कर रहा था| जो मुझे समझाने की कोशिश कर रहा था| कि कैसे जिम्मेदारियों के कारण उसके पास मंथ एंड Tak बैंक अकाउंट में काम चलाने लायक भी पैसे नहीं बचते| उसने अपनी पहली जॉब 10 साल पहले शुरू करी थी और उस समय उसकी सैलरी 5500 INR हुआ करती थी| आज 10 साल बाद वह 28000 INR की सैलरी लेता है| लेकिन 10 साल पहले जैसी उसकी Financial Position थी, आज भी वैसी ही है| और जो JOB वह करता है, उसे वह पसंद भी नहीं करता| लेकिन Still JOB करते रहना उसकी मजबूरी है, और यह हर मिडिल क्लास की कहानी है|

फाइनेंसियल जानकारी ना होने के कारण

सैलरी एक ऐसा Financial TRAP है, जो हमें हमारे सपनों को भुलाने के लिए दी जाती है| तो दोस्तों हम जानेंगे कि क्यों हम इंडियन Financial Education में इतने पीछे हैं, और कैसे कुछ सिंपल Financial स्टेप्स से हम पैसों के लिए काम करना छोड़ सकते हैं| और अपने सपनों की जिंदगी जी सकते हैं| इस पोस्ट में वह जानने वाले हैं, जिसके लिए Financial वेल्थ मैनेजर काफी मोटी मोटी फीस चार्ज करते हैं, और वह भी एकदम फ्री|

जैसे कि हम जानते हैं कि हमारा एजुकेशन सिस्टम सिर्फ 200 साल पुराना है| उससे पहले फॉर्मल एजुकेशन Rich Class People के लिए Reserve हुआ करती थी| लेकिन जैसे पूरे दुनिया में इंडस्ट्री का दौर चला और बड़ी-बड़ी Factory पूरी दुनिया में सेट की जाने लगी| तो पूंजी वादियों को ऐसा फील हुआ कि उन्हें स्किल्ड और एजुकेटेड वर्कर्स की जरूरत होगी| और बस इसीलिए स्कूल और कॉलेज की शुरुआत की गई| शिक्षा संस्थानों में स्टूडेंट्स को बिना ज्यादा सवाल-जवाब के हर वो Work/Task कराया जाने लगा, जो फैक्ट्री ओनर्स चाहते हैं|

और शिक्षा व्यवस्था को ऐसे मार्केट किया गया कि, Yah यहस्टूडेंट्स के लिए फायदेमंद है और उनके लिए रोजगार के नए दरवाजे खुलेंगे| इन शॉर्ट एजुकेशन सिस्टम अमीरों द्वारा अपने लिए Skilled Worker Produced करने की एक फैक्ट्री की है| बात तो यह है कि हम आज भी इसी एजुकेशन सिस्टम को फॉलो करते हैं| जो कि मेरी नजर में बिल्कुल भी सही नहीं है| इसीलिए World की काफी सारी सेल्फ Made Rich पर्सनैलिटी करंट एजुकेशन सिस्टम को नहीं पसंद करते हैं|

Jaise Ki जैसे कि Alon Musk, Dhirubhai Ambani, Warren Buffet और रॉबर्ट कियोसकी जैसे कई बड़े बड़े नाम शामिल है| रॉबर्ट कियोसकी तो ओपनलि कहते हैं कि एजुकेशन सिस्टम हमें गरीब कैसे रहा जाए यह सिखाता है| उन्होंने एक बुक भी लिखी है “Why A Student Work For C Student” जिसमें वह कहते हैं कि जो स्टूडेंट स्कूल में अच्छे नंबर लाते हैं, आगे जाकर उनके लिए काम करते हैं जो इतने अच्छे नंबर नहीं लाते| कॉलेज में जिस तरह तरह का माहौल बनाया जाता है, वही कारण है आज हमारे Financial स्ट्रगल का| 

क्योंकि फॉर्मल एजुकेशन में Hame फाइनेंशियल जानकारी नहीं दिया जाता है| इसलिए आज एक एवरेज पर्सन में पैसे की इतनी कम समझ होती है| पोस्ट में आगे बढ़ने से पहले एक जरूरी बात कि, आपको वह सब भुलाने होगा, जो आपने स्कूल या कॉलेज में सीखा है| जो आपने, आपने पड़ोसियों से, ya अपनी या अपने-अपने पेरेंट्स se पेरेंट्स से सुना है| पैसों और Financial Knowledge के बारे में जानने के लिए अब आगे बढ़ते हैं| हम इस पोस्ट को सिंपल रखने के लिए हम पूरी जर्नी को 3 स्टेप्स में डिवाइड करेंगे| 

Step 1- Set A Goal लक्ष्य का निर्धारण

सबसे पहले आपको यह डिसाइड करना होगा कि आपको फाइनेंशली इंडिपेंडेंट होने के लिए कितने रुपए की जरूरत है| या आपके पास कितना पैसा होना चाहिए कि, जिससे आप उतनी पैसिव इनकम जनरेट कर सके कि, बिना काम किए आपके सारे एक्सपेंसेस आराम से कवर हो सके|

थोड़ा डिटेल में समझाने के लिए मैं एक रियल लाइफ एग्जांपल लेता हूं| Grant Sabatier जो कि आज अपनी Financial Freedom Bestseller Book के लिए जाने जाते हैं| Ek समय था जब Grant Sabatier पूरी तरह से गरीब थे| 24 साल की उम्र में अपनी JOB से निकाले जाने के बाद ग्रांट पेरेंट्स के साथ रहे थे| बैंक में सिर्फ 270 $ ही बचा था| और एक नई जॉब ढूंढने के लिए उनके पास बस 3 महीने ही बचे थे| क्योंकि उनके पेरेंट्स भी उनको अपने साथ इससे ज्यादा रहने के लिए Allow नहीं कर रहे थे| 

100 से ज्यादा JOB में अप्लाई करने के बाद भी उन्हें कहीं से कॉल बैक नहीं मिला| फिर 1 दिन पूरी तरह से टूट Chuke Grant Sabatier अपने घर के पीछे लोन में पेड़ के नीचे लेटे हुए थे| और अपनी बुरी हालत के बारे में सोच रहे थे| बैंक में उनके मुश्किल से $270 होने के बाद भी, उस दिन Unhone एक ऐसा गोल सेट किया, जो प्रैक्टिकली कई लोगों के लिए इंपॉसिबल हो सकता है| Grant डिसाइड करते हैं कि वह नेक्स्ट 5 सालों में कुछ भी करके Financial फ्री होना चाहते हैं| और पूरी जिंदगी ऐसे ही पैसों के लिए काम नहीं करना चाहते|

फिर थोड़ी कैलकुलेशन करने के बाद उन्हें पता चला कि उन्हें Financial फ्री होने के लिए 1 मिलीयन डॉलर्स की जरूरत होगी| अगले 5 सालों के लिए Grant बहुत हार्ड वर्क करते हैं| और अपने लिए वन मिलियन डॉलर जितना अमाउंट कलेक्ट कर लेते हैं| और फिर कभी वापस मुड़कर नहीं देखते| तो दोस्तों इस Example से आप Goal Setting की पावर को समझ गए होंगे|

Step2- Save & Invest बचत और निवेश

Financial Freedom की अगली सीडी पैसों की बचत करना और उनको सही जगह निवेश करना है| आप अपनी पूरी जिंदगी दिन-रात पैसे के लिए एक कर दे रहे, लेकिन अगर आप ने पैसों को सेव & इन्वेस्ट करने की आदत नहीं डाली| तो आप हमेशा ही स्ट्रगल करते रहेंगे| इसका मतलब है सेव और इन्वेस्टमेंट करते रहिए और आपको Financial Freedom होने के लिए लाखों रुपए की सैलरी की भी जरूरत नहीं है| छोटी सी सैलरी से या मात्र महीने के कुछ हजार रुपे को सेव करके भी उन्हें अच्छी जगह इन्वेस्ट करके, जहां से अटलीस्ट आपको बैंक एफडी से ज्यादा रिटर्न मिल सके| Aap अपने लिए अच्छी खासी पैसा इकट्ठा कर सकते हैं|

मैं अपने थोड़ी सी कैलकुलेशन के साथ समझाने की कोशिश करता हूं| कि आप 15000 से 20000 की सैलरी कर लेते हो| तो इतनी सैलरी में से आप अपना खर्चा वगैरा निकालकर महीने के ₹5000 बचा लेते हैं| पर शर्त यह है कि जैसे जैसे आपकी सैलरी में बढ़ोतरी होगी तो आपको अपने खर्चों को नहीं बढ़ाना है| बल्कि इन्वेस्टमेंट को बढ़ाना है| तो मैं मान रहा हूं कि आने वाले सालों में आपकी सैलरी हाइक होगी 10 परसेंट से badhegi. जिसे भी आप इन्वेस्टमेंट ही करेंगे|

तो दोस्तों अब देखिए एक मैजिक, आप ने शुरुआत में इन्वेस्ट के ₹5000 हर महीने पूरे साल और आपको अपनी इन्वेस्टमेंट पर मिला Intrest था मात्र 15% तो, 20 साल बाद जो अमाउंट बना होगा वह होगा More than 1 करोड़ रूपीस और यह इतना बड़ा बना Matra 5000 की इन्वेस्टमेंट की शुरुआत से| दोस्तों यही है कंपाउंडिंग की पावर| लेकिन सवाल यहां यह भी है कि 15 परसेंट का रिटर्न आखिर मिलेगा कैसे| दोस्तों इस पर भी एक डिटेल Post जल्दी मैं लाने वाला हूं| जिसमें हम डिटेल में सभी इन्वेस्टमेंट Option के बारे में Janane वाले हैं|

Step 3- Discipline & Patience

इसीलिए फिलहाल थर्ड स्टेप के बारे में जान लेते हैं| जो hai Discipline & Patience. अमेरिका में एक सर्वे किया गया कि, किसने सबसे ज्यादा इन्वेस्टमेंट से पैसा कमाया है| पिछले 30 सालों में कौन लोग हैं, जिन्होंने सबसे ज्यादा Wealth Create करी है, यानी कि किन लोगों ने सबसे ज्यादा रिटर्न कमाया है| सर्वे का रिजल्ट देख कर खुद सर्वे करने वाली एजेंसी भी हैरान थी| क्योंकि जिन लोगों ने सबसे अधिक वेल्थ Create करी थी| उनमें से ज्यादातर लोग इन्वेस्टमेंट करने के बाद मर गए थे|

थोड़ा सुनने में यह आपको अजीब लग सकता है| लेकिन सर्वे के Result द्वारा में आपको यह Massage देना चाहता हूं| कि जो लोग अपने निवेश को लंबे समय तक होल्ड करते हैं वही अच्छी Wealth बनाते हैं| जैसे कि सर्वे में बताया गया है कि वह लोग इन्वेस्टमेंट करने के बाद मर गए थे| उन्होंने ही सबसे अधिक Wealth बनाई थी| क्योंकि वही एकमात्र ऐसे इन्वेस्टर थे जिन्होंने कभी अपनी इन्वेस्टमेंट को छेड़ा ही नहीं| और इसीलिए वो कंपाउंड होती रही|

बहुत सारे लोग हैं जो Financial GOAL सेट करते हैं| फिर पैसों को Save & इन्वेस्ट भी करते हैं| लेकिन जहां वह Lag करते हैं, वह डिसिप्लिन और पेशेंट| क्योंकि आप शुरू शुरू में मोटिवेट होते हैं और Save & Invest करने लगते हैं| लेकिन फिर जब आपको कुछ बड़ा चीज नहीं दिखता| जब आपकी Investment इतनी स्पीड से नहीं बढ़ती, तो आप डिमोटिवेट होकर इन्वेस्टमेंट छोड़ देते हैं| और वापस उसी स्टेज पर आ जाते हैं| इसलिए Warren Buffet भी कहते हैं कि

“ज्यादातर लोग आज इसीलिए गरीब है क्योंकि कोई भी धीरे-धीरे अमीर नहीं होना चाहता”

लेकिन दोस्तों आपको पता होना चाहिए कि Amazon को भी पहला प्रॉफिट कमाने में 15 साल लग गए थे| और आज देख लो ऐमेज़ॉन के 1घंटे की कमाई 8 मिलियन डॉलर यानी ₹600000000 से भी ज्यादा है| इसीलिए Investment se ज्यादा इंपोर्टेंट होता है, Discipline & Patience. तो अगर आप भी सक्सेसफुल होना cahate हैं तो डिसिप्लिन और पेशेंट को प्रेक्टिस करना, आज से ही शुरु कर दो| इस Post में हमने आज जाना की हम फाइनेंसियल फ्री नहीं है, बल्कि पैसे की गुलामी कर रहे हैं| और इस गुलामी से बाहर निकलने के लिए सबसे पहले हमें अपने Mind Set को बदलना होगा| आगे हमने जाना कि कैसे 3 सिंपल ईजी स्टेप्स को फॉलो करके, हम Financial Freedom अचीव कर सकते हैं|

(Visited 26 times, 1 visits today)